BJ Untold

वो पहला हवाई सफ़र छोड़ गया ये यादें…

BJ Untold: बचपन के दिनों में हर किसी के अजीब सपने होते हैं. इन सपनों का असल ज़िंदगी से कोई तालुक नहीं होता है. किसी का सपना होता है के वो बादलों पे पहुंच जाए तो कोई सोचता है कि चांद पर पिकनिक मनाये.लेकिन BJ के सपने तो बहुत थे पर इन सब में एक सपना या यूँ कहें एक चाहत ऐसी थी जो शायद हर किसी की चाहत हो और वो चाहत ये थी की ज़िन्दगी में एक बार हवाई जहाज़ का सफ़र ज़रूर करना है और ये चाहत BJ की 24 साल की उम्र में पूरी हो रही थी…

दरअसल BJ पहली बार अपने सपनों के शहर मुंबई हवाई जहाज़ में जा रहा था. BJ उस वक़्त अपने दोस्त के साथ चंडीगढ़ में रहता था और वो हवाई जहाज़ से मुंबई जाने के लिए बेहद ख़ुश था. आखिर वो दिन आ ही गया जब BJ ने चंडीगढ़ से मुंबई के लिए उड़ान भरनी थी और वो दिन था 25 अप्रैल. BJ अपने PG से अपने दोस्त के साथ Cab में Airport के लिए निकलता है. उसका दोस्त उसे See Off करने के लिए साथ जाता है.

BJ की flight शाम 5:20 पर थी लेकिन अक्सर Flight से दो घंटे पहले एअरपोर्ट पहुंचना पड़ता है. उसका दोस्त उसे See Off करके वापिस PG लौट गया. अब BJ एअरपोर्ट में बिलकुल अकेला था..hmmm वैसे तो एअरपोर्ट में बहुत से लोग थे. लेकिन BJ अकेले सफ़र कर रहा था और उसकी ये पहली फ्लाइट थी.. उसे ख़ुशी के साथ थोड़ी घबराहट भी महसूस हो रही थी. वो हर announcement को काफी संजीदा हो कर सुन रहा था.. वो लोगों में ऐसा ज़ाहिर कर रहा था की उसे घबराहट महसूस नहीं हो रही है और ना ही उसकी ये पहली फ्लाइट है…

BJ की flight को अभी take off में तकरीबन 1:30 घंटे का समय था… लेकिन अभी उसका बोर्डिंग पास भी बनना था. तब BJ ने सोचा चलो यार एअरपोर्ट आये हैं कॉफ़ी का मज़ा लेते हैं. उसने कॉफ़ी आर्डर की जैसा ही उसने कॉफ़ी का बिल देखा उसके होश उड़ गए . दरअसल कॉफ़ी का छोटा सा cup150 rupee था. इसी बीच BJ की flight की announcement हो गई. वो जल्दी से महंगी कॉफ़ी के ग़म को भूल कर फटाफट बोर्डिंग पास बनवाने काउंटर की तरफ गया…

finally BJ के हाथ में उसकी पहली फ्लाइट की window seat का बोर्डिंग पास था और कुछ देर में check-in process शुरू हो गया… BJ ने अपना बैग checking के लिए मशीन में डाल दिया और ख़ुद पुलिस वाले के सामने चेकिंग के लिए खड़ा हो गया.. जैसे ही पुलिस वाले ने metal detector चेकिंग के लिए BJ की तरफ आगे बढ़ाया तो beep का साउंड आने लगा.. पुलिसवाला सकते में आ गया BJ ने कहा ऑफिसर ये मेरे वॉलेट में पड़े सिक्के हैं लेकिन पुलिस वाला नहीं माना और जब पुलिस वाले ने खुद वहां सिक्के पाए तो वो BJ को सॉरी फील करने लगा और कहने लगा ये हमारा काम है. BJ ने कहा कोई बात नहीं और उसे उस वक़्त इस बात का पता नहीं था की मेटल की कोई भी चीज़ फ्लाइट में ले जाना allowed नहीं होता है…

खैर इन सब से निकल कर प्लेन में जब BJ ने कदम रखे तो वहां एयर होस्टेस ने सभी यात्रियों के साथ BJ का भी ज़ोरदार स्वागत किया…धीरे-धीरे हवाई जहाज़ take Off की तैयारी करने लगा और एयर होस्टेस विमान के नियम बताने लगी और फिर क्या हवाई जहाज़ हवा में तैरने लगा…

BJ ने सुना था कि जब प्लेन take off करता है तो हल्का झटका लगता है लेकिन BJ को ऐसा कम महसूस हो कर आनंद की अनुभूति हुयी. BJ को दोहरी ख़ुशी हो रही थी एक पहली फ्लाइट की ख़ुशी दूसरा अपने सपनों के शहर जाने की ख़ुशी अलग ही मज़ा बन रहा था. तभी पायलट ने 2घंटे 15 मिनट के बाद announcement की हम मुंबई पहुँच गए हैं लेकिन ट्रैफिक होने की वजह से लैंडिंग में थोड़ा समय लग सकता है. असुविधा के लिए खेद है… सभी अपनी सीट्स पर बैठे रहें…

इसी दौरान BJ को wash रूम जाने की ज़रूरत महसूस होती है. वो एयर होस्टेस से wash रूम के बारे में पूछता है. एयर होस्टेस इशारे से लेफ्ट साइड को कहती है. मगर इतेफाक से लेफ्ट साइड में दो दरवाज़े होते हैं असल में BJ की ये पहली यात्रा थी इसलिए वो थोडा कंफ्यूज हो गया की wash रूम का दरवाज़ा कौन सा है. वो मन ही मन सोचने लगा भाई गलती से कोई गलत दरवाज़ा ना खुल जाए के हम आसमान में तैर रहे हों… वो मन ही मन मुस्कुराता है.. तभी वो हिम्मत करके एक दरवाज़े को खोलने की कोशिश करता है… पीछे से एयर होस्टेस जल्दी जल्दी आती है Sir… Sir.. ये नहीं ये पायलट का दरवाज़ा है इसके बाजू वाला दरवाज़ा wash रूम का है….

इतना सब होने के बाद BJ इन सब बातों को सोच कर अपनी हसीं को बहुत मुश्किल से रोके हुए था… फ़िर कुछ मिनट्स के बाद पायलट ने बहुत ही आरामदायक लैंडिंग की और BJ अपने सपनों के शहर मुंबई पहुँच गया….

तो ये थी BJ Untold की पहली पेशकश .. अगर आपको ये segment अच्छा लगा है तो like और share करें और Comment करके अपने सुझाव ज़रूर दें… शुक्रिया दोस्तों….

Like

Like Love Haha Wow Sad Angry

6

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *