Health

Early Morning उठाने में होती है दिक्कत तो इन टिप्स को आज़माए…

Health:-देर तक सोना और 8 घंटे की नींद लेना सभी को अच्छा लगता है. लेकिन अगर सुबह जल्दी उठने की बात आती है, तो बहुत से लोगों को सुबह जल्दी उठने की आदत नहीं होती. ऐसे लोगों को सुबह जल्दी उठने में बहुत मुश्किल होती है, यहां तक कि कुछ लोग अलार्म बजने के बाद भी नहीं उठ पाते. सुबह जल्दी न उठ पाने का मतलब यही है कि आपकी नींद पूरी नहीं हो पाई है या फिर आप पूरी नींद नहीं ले पा रहे हैं. फिर चाहे आप कामकाजी हों या नहीं, हर किसी का सुबह उठने का अपना एक टाइम होता है. लेकिन, अगर हम सुबह जल्दी नहीं उठेंगे, तो अपने सभी काम समय से कैसे पूरे कर पाएंगे या फिर दूसरे कामों के लिए वक्त कैसे निकालेंगे. तो यहां हम आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे और किन आदतों से आप समय पर सो सकते हैं और सुबह जल्दी उठ भी सकते हैं.

बेडटाइम रूटीन (Bedtime Routine)

  • सोने से 6 घंटे पहले किसी भी ऐसे पेय पदार्थ का सेवन न करें, जिसमें कैफीन (Caffeine) हो.
  • सोने से कम से कम 2-3 घंटे पहले किसी भी ऐसी मशीन या डिवाइस का इस्तेमाल न करें, जिसकी नीली लाइट आपकी आंखों पर पड़े. नींद न आने की एक बड़ी वजह यह भी है.
  • सोने से पहले खुद को थोड़ा आराम दें. किताबें पढ़ें या फिर किसी अच्छे शॉवर जेल से बाथ लें. ऐसा कोई भी काम न करें, जो आपके शरीर को थकान दे या फिर आपको सोने न दे.
  • दिन में कम ही सोने की कोशिश करें.

सोने का समय निर्धारित करें (Get on a sleep schedule)

सबसे पहले यह देखें की कितने घंटे की नींद आपके लिए जरूरी है. ज्यादातर लोग 7-9 घंटे की नींद लेते हैं. ऐसे में उसी के अनुसार अपने दिनभर का काम निर्धारित करें. मान लीजिए, आपको सुबह 7 बजे उठना है, तो आपको रात के 11 बजे तक सो जाना चाहिए. अपने सोने का समय सिर्फ वीकडेज (Weekdays) के लिए ही नहीं बल्कि वीकेंड (Weekends) के लिए भी निर्धारित करें.

आलस की वजह से अलार्म को बजने देना (Snoozing The Alarm)

ज्यादातर लोगों की यह आदत होती है कि वह सुबह जल्दी उठने के लिए अलार्म लगाते हैं, लेकिन आलस की वजह से अलार्म को बंद नहीं करते. अलार्म बजने पर 10 मिनट और सोने की आदत अच्छी तो लगती है, लेकिन यह आपकी सेहत के लिए अच्छी नही है. जब आप थोड़ा-थोड़ा करके सोते हैं, तो यह आदत आपके अंदर ज्यादा आलस पैदा करती है और आपको ज्यादा नींद आती है. तो जैसे ही सुबह आपका अलार्म बजे तो उसे बंद करके आपको तुरंत ही उठ जाना चाहिए.

खाने की आदतें (Eating Habits)

खाने में हेल्दी चीजें ही खाएं, क्योंकि हमारा भोजन हमारे एनर्जी लेवल (Energy Level) पर बहुत प्रभाव डालता है. अगर हम अस्वस्थ चीजें खाएंगे तो इससे हमारे अंदर आलस पैदा होगी. आपके भोजन में फल, सब्जी, ओमेगा-3 से भरपूर पोषक तत्व और अनाज जरूर होना चाहिए.

एक्सरसाइज (Exercise)

हर रोज़ सुबह उठकर व्यायाम करना न सिर्फ आपके शरीर को स्वस्थ बनाता औऱ आपका वजन कम होता है, बल्कि इससे हमारी नींद भी अच्छी होती है. जिन लोगों को अनिद्रा (insomnia), ज्यादा सोचने (anxiety), और निराशा (depression) की शिकायत है उनके ऊपर भी इसका अच्छा प्रभाव पड़ता है. बल्कि, अगर आप डांस करते हैं, तो यह भी आपकी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है, क्योंकि इससे भी एक तरह से शरीर की एक्सरसाइज हो जाती है. एक्सरसाइज हमारे शरीर के एनर्जी लेवल को बढ़ाती है.

दिन की रोशनी में बाहर निकलें (Daylight Exposure)

अगर आप हर समय घर के अंदर ही रहते हैं, तो सुबह उठकर बाहर टहलने जाएं, अपनी बालकनी में बैठें और अपने घर के पर्दों को भी कुछ समय के लिए खोलकर रखें. इससे आपको बाहर की रोशनी मिलेगी, जो आपके शरीर के लिए बहुत जरूरी है. इससे आपका मूड भी अच्छा होगा और आपका एनर्जी लेवल भी बढ़ेगा.

डॉक्टर से सलाह लें (Professional Help)

अगर ये सभी आदतें होने के बाद भी आपको सुबह उठने में मुश्किल होती है, तो इसके लिए किसी डॉक्टर की सलाह जरूर लें. इसके अलावा अगर आपके जीवन में कोई परेशानी है, जिसकी वजह से आप सो नहीं पाते, तो अपने किसी करीबी से अपनी समस्या जरूर बताए, जिससे वह आपको इस समस्या से बाहर निकलने में मदद कर सके.

Like

Like Love Haha Wow Sad Angry

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *