Sab ka aik Bhaijaan

कुछ बड़ा करने के लिए बड़ा Risk लिया हारिस ने…

Sab Ka Aik Bhaijaan

Sab Ka Aik Bhaijaan:  ज़िंदगी में कुछ कर गुज़रने का जज़्बा दिल में हो तो रास्ते ख़ुद ब ख़ुद बनते जाते है. मुश्किलें हर किसी के सामने आती है पर जो मुश्किलों का जम कर सामना करते हैं कामयाबी उनके क़दम चूमती है. जम्मू-कश्मीर की छोटी सी तहसील भदरवाह के रहने वाले हारिस ज़रगर की ज़िंदगी में उस वक़्त काफी बदलाव आया जब उन्हें सिर्फ़ तीसरी क्लास में ही बोर्डिंग स्कूल DPS Badhani पठानकोट घरवालों द्वारा भेज दिया गया. हारिस बताते हैं की जैसे ही उनका एडमिशन घर वालों से दूर Badhani हुआ तो हर लिहाज़ से उनकी ज़िंदगी में बदलाव आने लगा चाहे वो बदलाव मौसम का हो या भाषा का या खाने का शुरू में तो उनकों इन चीज़ों से निपटने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी. लेकिन आहिस्ता आहिस्ता हारिस ने खुद को इस माहौल में ढाल लिया. तकरीबन 10 साल वो बोर्डिंग स्कूल Badhani रहे और जीवन के अनकहे सच को जानने का सुनेहरा तजुर्बा मिला…

Haris Zargar

अब बात करते हैं उनकी कॉलेज लाइफ की हारिस कॉलेज में आते ही ज़िंदगी के अलग पहलु का भरपूर आनंद लेने लगे. कॉलेज लाइफ में उन्हें मॉडलिंग और एक्टिंग का जुनून सवार हो गया. उनके इसी जूनून ने उन्हें North Zone Photoshoot कम्पटीशन में उन्हें अव्वल दर्जे पर ला कर खड़ा कर दिया. इसी दौरान वो Balaji telefilms टैलेंट हंट contest में तीन बार सेलेक्ट हुए लेकिन घरवालों के दवाब के चलते उन्हें अपने सपनों को अलविदा कहना पड़ा. इसके साथ ही उन्होंने कारोबार करने में अपना हाथ आज़माना शुरू कर दिया. उन्होंने जम्मू में ही एक होटल का काम शुरू किया. हारिस बताते हैं कि होटल के काम के दौरान उन्होंने ख़ुद labour का काम भी किया है. वो किसी काम को करने में शर्म महसूस नहीं करते थे.

Haris Zargar

हारिस बताते हैं कि इंसान को अपनी लाइफ में Target बना कर चलना चाहिए. बिना Target के इंसान दिशाहीन हो जाता है. इंसान को हमेशा बड़ी सोच रखनी चाहिए चाहे उस काम में risk नज़र क्यूं नहीं आ रहा हो. जितना बड़ा risk होगा उतना ही बड़ा फ़ायदा भी होगा. ये कारोबार का एक सुनेहरा उसूल है. हारिस कहते हैं जिस चीज़ के बारे में सोचा रब ने उससे कई बढ़ कर अता किया और हमें हर हाल में रब का शुक्र गुज़ार रहना चाहिए.

इसके अलावा उन्हें गाडियों की भी गज़ब की दीवानगी है. अपने आने वाले future projects के बारे में हारिस बताते हैं कि वो जल्द इक नया Shoping मॉल अपने होमटाउन भदरवाह में खोलने जा रहे हैं  और साथ ही भविष्य में एक दो और Shoping मॉल और होटल्स बनाने का प्लान है. इतने बड़े कारोबारी बनने के बावजूद भी हारिस काफी Down to earth हैं. उनकी यही ख़ूबी उन्हें Sab ka Aik bhaijaan बनाती है. भाईजान बोले तो लीडर समझे ना… अगर आपको ये article अच्छा लगा हो तो पोस्ट के नीचे Like का बटन press करें और comment करके अपने सुझाव भी दें. सदा मौज में रहें आपका #Bhaijaan

Like

Like Love Haha Wow Sad Angry

492

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *